PRIMARY KA MASTER
उत्तर प्रदेश में शिक्षकों की आगामी भर्तियां 2022 UPPSC 2022 का 250 पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी
आईपीएल 2022 शेड्यूल, प्वाइंट टेबल यूपी बोर्ड 10th-12th एग्जाम की डेटशीट
17000 शिक्षक भर्ती नवीनतम अपडेटयूपी पुलिस 26382 कॉन्स्टेबल पदों पर भर्ती
उप्र लोक सेवा आयोग परीक्षा कैलेंडर 2022 UPSSSC प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (PET 2022)
उत्तर प्रदेश प्रमाणपत्र सत्यापन - आय, जाति, निवास , यूपीबोर्ड, टेट बेसिक शिक्षा परिषद की वर्ष-2022 की अवकाश तालिका
शिक्षक सूचनाओं को सीधे पाने लिए ज्वाइन करें शिक्षक समूह
याद आए Government School, बढ़ गई छात्रों की संख्या
Sambhal: प्रदेश सरकार Basic Shiksha Vibhag के Primary व Upper Primary Schools की सूरत बदल रही है। पढ़ने के लिए स्मार्ट क्लास व खेलने के लिए भी मैदान हैं। विद्यालयों के भवनों को भी बेहतर किया गया। Mission कायाकल्प के तहत विद्यालयों की सूरत बदली तो अभिभावकों को भी Basic Shiksha Vibhag पर भरोसा होने लगा। जिसके चलते Parants ने अपने बच्चों का Admission पिछले साल के मुकाबले अधिक संख्या में कराया। कोरोना के दौरान शिक्षण संस्थान बंद हो गए थे। ऐसे में Parants को अपने बच्चों का Admission Government School में कराना ही बेहतर लगा। जहां Government Schools की Fees कम है तो पिछले कुछ सालों में पढ़ाई का भी स्तर सुधरा है। इसी के चलते जिले के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालयों में छात्र-छात्राओं की संख्या में इजाफा हो गया। जहां वर्ष 2020 में Primary Schools में छात्र-छात्राओं की संख्या 161478 थी तो इस बार बढ़कर 169535 हो गई। वही Upper Primary Schools में पिछले साल 62746 थी तो इस बार संख्या बढ़कर 65918 हो गई। उधर छात्र संख्या बढ़ने पर Basic Shiksha Vibhag के Officers भी गदगद है। Officers का मानना है कि पढ़ाई बेहतर होने पर Parants अपने बच्चों का Admission करा रहे हैं।
सरकार ने बना दिया पढ़ाई का माहौल
जैसे ही प्रदेश में BJP Government बनी तो अन्य कार्यों की तरह Basic Shiksha Vibhag को बेहतर करने का पूरा प्रयास किया। Mission कायाकल्प के तहत विद्यालयों के भवन को बेहतर किया गया। जिसके चलते Schools में पढ़ाई का माहौल बना और छात्र-छात्राओं की संख्या में इजाफा हो गया।
पिछले Years के मुकाबले इस वर्ष छात्र-छात्राओं की संख्या में इजाफा हुआ है। कुछ सालों में Basic Shiksha Vibhag को सुधारने के लिए बहुत काम हुआ है। ऐसे में Parants ne भी विश्वास किया है।
दीपिका चतुर्वेदी, Basic Shiksha Adhikari सम्भल
🏠 Home